टाइटन (Titan) ने बतौर ब्रांड न सिर्फ भरोसा जीता है, बल्कि लोगों को मालामाल भी किया है। कंपनी के शेयरों ने ताबड़तोड़ रिटर्न दिया है।

Share market के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Share market investment करणा चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

आप शेयर मार्किट New Upcoming Ipo in India | नया आगामी आईपीओ 2022 जानकारी पाने के लिंक निचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

टाइटन के शेयरों में सिर्फ 10,000 रुपये लगाने वाले लोग करोड़पति बन गए हैं। कंपनी के शेयरों ने पिछले 20 साल से कम में निवेशकों को 1,00,000 पर्सेंट से ज्यादा का रिटर्न दिया है।

टाइटन का मार्केट कैप करीब 2.26 लाख करोड़ रुपये है। टाइटन कंपनी, टाटा ग्रुप और तमिलनाडु इंडस्ट्रियल डिवेलपमेंट कॉरपोरेशन (TIDCO) का ज्वाइंट वेंचर है।

टाइटन कंपनी के शेयर 8 मार्च 2002 को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) में 2.35 रुपये के स्तर पर थे। कंपनी के शेयर 28 फरवरी 2022 को एनएसई में 2,556 रुपये पर बंद हुए हैं।

अगर किसी व्यक्ति ने 8 मार्च 2002 को टाइटन के शेयरों में सिर्फ 10,000 रुपये लगाए होते और अपने निवेश को बनाए रखा होता तो मौजूदा समय में यह पैसा 1.08 करोड़ रुपये होता।

अगर किसी व्यक्ति ने टाइटन के शेयरों में  8 मार्च 2002 को 1 लाख रुपये लगाए होते तो मौजूदा समय में यह पैसा 10.8 करोड़ रुपये होता।

टाइटन के शेयरों का 52 हफ्ते का हाई लेवल 2,687.25 रुपये है। वहीं, कंपनी के शेयरों का 52 हफ्ते का लो-लेवल 1,400.05 रुपये है। टाइटन में टाटा ग्रुप की हिस्सेदारी 25.02 फीसदी है।

टाइटन में तमिलनाडु सरकार की हिस्सेदारी 27.88 फीसदी है। वहीं, दिसंबर 2021 के आखिर में दिग्गज इनवेस्टर राकेश झुनझुनवाला की टाइटन में हिस्सेदारी बढ़कर 5.09 फीसदी हो गई है।