एक दिग्गज फार्मा कंपनी अपने निवेशकों को तगड़ा डिविडेंड देने जा रही है। यह कंपनी एबॉट इंडिया (Abbott India) है।

How to buy and sell shares online in India | भारत में ऑनलाइन शेयर कैसे खरीदें और बेचें, अधिक जाणकारी चाहते हो, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे.

अच्छी कंपनियों की तलाश कैसे करें क्योंकि भारतीय शेयर बाजार में कई सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध कंपनियां हैं?, अधिक जाणकारी चाहते हो, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे.

फार्मा कंपनी एबॉट इंडिया ने घोषणा की है कि उसके बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने मार्च 2022 को खत्म हुए वित्त वर्ष के लिए 145 रुपये का फाइनल डिविडेंड और 130 रुपये का स्पेशल डिविडेंड अप्रूव किया है।

मार्च 2022 को खत्म हुई चौथी तिमाही में एबॉट इंडिया का नेट प्रॉफिट 39 फीसदी बढ़कर 211 करोड़ रुपये रहा है। एबॉट इंडिया को पिछले साल की समान अवधि के दौरान 152 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।

जनवरी-मार्च 2022 तिमाही में ऑपरेशंस से हासिल होने वाली कंपनी का रेवेन्यू बढ़कर 1,255 करोड़ रुपये रहा है, जो कि एक साल पहले की समान अवधि के दौरान 1,096 करोड़ रुपये था।

31 मार्च 2022 को खत्म हुए पूरे वित्त वर्ष के दौरान कंपनी को 799 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट हुआ है। वहीं, वित्त वर्ष 2021 के दौरान कंपनी को 691 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।

एबॉट इंडिया के शेयर 18 जनवरी 2002 को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) में 239.55 रुपये के स्तर पर थे। कंपनी के शेयर 18 मई 2022 को 17,820 रुपये पर बंद हुए हैं।

अगर किसी व्यक्ति ने 18 जनवरी 2002 को कंपनी के शेयरों में 1 लाख रुपये लगाए होते और अपने इनवेस्टमेंट को बनाए रखा होता तो मौजूदा समय में यह पैसा बढ़कर 74.38 लाख रुपये हो गया होता।

एबॉट इंडिया के शेयरों ने पिछले 5 साल में 322 फीसदी का रिटर्न दिया है। कंपनी के शेयरों का 52 हफ्ते का हाई लेवल 23,934.45 रुपये है। एबॉट इंडिया के शेयरों का 52 हफ्ते का लो लेवल 15,514 रुपये है।