रात की शिफ्ट में रहकर फिल्में देखता और बाहर घूमता, 5 साल तक कुछ किए बिना सैलरी और प्रमोशन लेता रहा शख्स, कैसे किया ये कारनामा, जानिए

हमारे ब्लॉग की लिंक आप तक जलदी पोहचणे के लिये जॉईंट करे टेलिग्राम चॅनेल, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे.

मगर आप सोच रहे होंगे कि आखिर ऐसा कैसे हुआ कि बिना किसी काम के 5 साल तक सैलरी और प्रमोशन ले लिए? दरअसल उस शख्स को जो काम करना था

उसने उस काम का ऐसा तोड़ ढूंढ लिया था कि पूरा काम चुटकी में हो जाता था. उसने इसी काम को करते-करते 5 साल बिता दिए और सैलरी व प्रमोशन लेता रहा.

वह काम सिर्फ एक कंप्यूटर कोड से अपने आप हो सकता है. लेकिन उसने यह बात किसी को नहीं बताई और चुपचाप वहां 5 सालों तक बिना काम किए पैसे और प्रमोशन लेता रहा.

यूजर ने अपना नाम जाहिर किए बिना बताया कि उसे 2015 में एक कंपनी में डेटा एंट्री ऑपरेटर का जॉब मिला थी. उसकी जॉब नाइट शिफ्ट में थी और उसे वर्क-फ्रॉम होम करना था.

“यह एक डेटा एंट्री की नौकरी थी. मुझे एक ईमेल मिलता था, जिसमें ऑर्डर से जुड़ी जानकारियों को हमारे सिस्टम में इंफॉर्मेशन के रूप में डालना होता था.

मेरी नाइट शिफ्ट थी. कंपनी रात में ऑफिस क्लीनिंग और कर्मचारियों के ट्रांसपोर्ट पर खर्चा नहीं करना चाह रही थी. इसलिए मैं पहले दिन से वर्क फ्रॉम होम कर रहा था.”

यूजर ने बताया कि ट्रेनिंग के बाद ही उसे पता चल गया कि जिस काम के लिए उसे हायर किया गया है, वह काम सिर्फ एक कोड के जरिए आसानी से हो सकता है.

हालांकि यूजर को वह कोडिंग नहीं आती थी. ऐसे में उन्होंने कोड बनाने के लिए एक फ्रीलांस डिवेलपर से संपर्क किया, जिसने उनके लिए यह कोड बना कर दिया.

यूजर ने बताया, “पहले दो सालों के दौरान, मैं नियमित तौर पर यह चेक करता रहता था कि क्या कोई ऐसी चीज है, जिसे यह कोड नहीं कर पा रहा है. आमतौर पर मुझे यह चेक करने में 5 मिनट लगते थे.

यूजर ने बताया कि कंपनी ने उनके “शानदार काम” के लिए उन्हें कई बार प्रमोशन भी दिया. यूजर ने बताया कि उसे बीच में एक दो बार दूसरी कंपनी से भी जॉब के ऑफर आए, लेकिन उसने उन्हें ठुकरा दिया.

यूजर ने बताया कि हाल ही में उनकी कंपनी ने एक प्रोग्राम डेवलप किया, जिसके बाद कंपनी में उनका पद खत्म हो गया. यूजर ने बताया, “मुझे कंपनी से जॉब खत्म होने का लेटर मिला.

इसके बाद मैं कंप्यूटर को यूं ही चलते हुए छोड़ देता था. इस दौरान मैं फिल्में देखता था, सो जाता था या कई बार तो बाहर भी चला जाता था. बाद में मैंने उन कार्यों को भी कोड में जोड़ लिया