दो हफ्ते पहले अपने निवेशकों को कंगाल करने वाले टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा टेलीसर्विसेज लि. (टीटीएमएल) के शेयर पर खरीदारी का रंग चढ़ा हुआ है।

Share market के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Share market investment करणा चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

आप शेयर मार्किट New Upcoming Ipo in India | नया आगामी आईपीओ 2022 जानकारी पाने के लिंक निचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

केवल 8 सत्रों में ही टीटीएमएल के शेयरों ने करीब 38 रुपये प्रति शेयर का मुनाफा दिया है। आठ मार्च को यह स्टॉक 93.40 रुपये पर आ गया था और आज अपर सर्किट के साथ एनएसई पर 131.40 रुपये पर है।

एक साल पहले जिसने भी एक लाख रुपये इसमें लगाए होंगे, उसका एक लाख 7 लाख 50000 रुपये हो गया होगा। क्योंकि एक साल पहले इसकी कीमत 15.45 रुपये थी।

यह स्टॉक 290.15 रुपये से 93.40 रुपये तक लुढ़कने के बाद पिछले 8 सत्रों से लगातार अपर सर्किट के साथ कारोबार कर रहा है।

बता दें पिछले दिनों टीटीएमएल के शेयर निवेशकों को लगातार कंगाल कर रहे थे। इसके खरीदार नहीं मिल रहे थे और आज कोई बेचने को तैयार नहीं है।

गुरुवार को  टीटीएमएल का शेयर 5 फीसद के अपर सर्किट के साथ 131.40 रुपये पर पहुंच गया। इसका 52 हफ्ते का लो 10.45 रुपये है।

इस टेलीकॉम  कंपनी के शेयर ने पिछले 8 दिनों में  छप्परफाड़ रिटर्न दिया है। अगर पिछले 6 महीने की बात करें तो इसके हर शेयर पर 94.25 रुपये  का मुनाफा यानी 253.70 फीसद का रिटर्न दिया है।

इधर लगातार अपर सर्किट लगने से पिछले 1 महीने में इस शेयर ने अपने निवेशकों नुकसान काफी हद तक कम कर चुका है। अब केवल 11.04 फीसद ही नुकसान दिख रहा है।

अगर इस साल की बात करें तो यह अबतक 39.35 फीसद तक टूट चुका है। हालांकि एक साल पहले जिसने भी इसमें पैसा लगाकर रखा है, वह अभी 750.49 फीसद के मुनाफे में है।

टाटा टेलीसर्विसेज की सब्सिडियरी कंपनी है। यह कंपनी अपने सेगमेंट में मार्केट लीडर है। कंपनी वॉइस, डेटा सर्विसेज देती है। कंपनी के ग्राहकों की लिस्ट में कई बड़े नाम है।

मार्केट एक्सपर्ट्स के मुताबिक बीते महीने कंपनी ने स्मार्ट इंटरनेट बेस्ड सर्विस कंपनियों के लिए शुरू की है। इसे जबरदस्त रिस्पॉन्स मिल रहा है

कि इसमें कंपनियों को फास्ट इंटरनेट के साथ क्लाउड बेस्ड सिक्योरिटी सर्विसेज और ऑप्टोमाइज्ड कंट्रोल मिल रहा है।

इसकी सबसे बड़ी खासियत क्लाउड आधारित सिक्योरिटी है जिससे डेटा को सुरक्षित रखा जा सकेगा। जो बिजनेस डिजिटल आधार पर चल रहे हैं, उन्हें इस लीज लाइन से बहुत मदद मिलेगी।