Shabaash Mithu Review: क्रिकेट की दुनिया के कई दिग्गज क्रिकेटर्स जैसे महेंद्र सिंह धोनी, सचिन तेंदुलकर, कपिल देव की बायोपिक फिल्में बन चुकी हैं।

महिला क्रिकेट टीम को पहचान दिलाने के लिए पूर्व कप्तान मिताली राज ने काफी मेहनत की। फिल्म का निर्देशन सृजित मुखर्जी ने किया है और मिताली का किरदार एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने निभाया है।

महिला क्रिकेटर की जिंदगी पर बनी ये फिल्म कैसी है और इसे देखना चाहिए या नहीं? इसके लिए आप रिव्यू पढ़ लें।

फिल्म: शाबाश मिथु कास्ट:  तापसी पन्नू, विजय राज, इनायत वर्मा, कस्तूरी जगनाम, मुमताज सोरकार,  निर्देशक: सृजित मुखर्जी कहां देखें- सिनेमाघर

फिल्म 'शाबाश मिथु' की शुरुआत होती है नन्ही बच्ची मिथु (इनायत वर्मा) से जो भरतनाट्यम सीख रही है। उसकी नई सहेली नूरी (कस्तूरी जगनाम) बनती है जो उसे क्रिकेट खेलने के सपने दिखाती है।

साथ ही दोनों की दोस्ती पक्की हो जाती है। दोनों को कोच संपत (विजय राज) मिलते हैं, जो क्रिकेट खेलने के सपने को पंख देने का काम करते हैं। लेकिन कुछ पाबंदियां भी आड़े आती रहती है।

नूरी अपने पिता के आगे हार मान लेती है और उसका निकाह हो जाता है। मिथु यहां पर पहली बार टूटती है। इसके बाद मिथु क्रिकेट ग्राउंड पर जमकर बल्ला घुमाती है

और महिला क्रिकेट टीम की कप्तान भी बनती है। बेहतरीन खेलने के साथ मिताली राज (तापसी पन्नू) महिला क्रिकेट टीम के अधिकार के लिए भी लड़ती रहती हैं।

फिल्म 'शाबाश मिथु' खासतौर पर मिताली राज के संघर्ष, कोशिशों और अपनी पहचान के लिए लड़कर जीतने की कहानी है।

मुकेश छाबड़ा ने फिल्म में कास्टिंग की है और हमेशा की तरह अच्छी की है। लेकिन जब फिल्म की मुख्य कड़ी कमजोर होने लगे तो बेहतरीन स्टार कास्ट भी डूबती नैया को बचा नहीं पाती।

तापसी पन्नू ने मिताली राज के किरदार में खूब मेहनत की है और उन्होंने एक बार फिर अपनी दमदार परफॉर्मेंस दी है। विजय राज आंखों और भाव से ही एक्टिंग कर लेते हैं।

Loan, Credit card, Personal Loan, App loan, Home Loan, Education Loan  के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे