शेयरों की खरीद-फरोख्त का पैसा चौबीस घंटे में आपके खाते में आ जाएगा। अभी तक यह रकम 48 घंटे में खाते में पहुंचती थी। शुक्रवार से टी प्लस वन का नियम पहली बार शेयर बाजार में लागू कर रहा है।

Share market के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Share market investment करणा चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

आप शेयर मार्किट New Upcoming Ipo in India | नया आगामी आईपीओ 2022 जानकारी पाने के लिंक निचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

शेयरों के सेटलमेंट का टी प्लस वन सिस्टम 25 फरवरी से लागू हो रहा है। चुकनू सिक्योरिटीज लिमिटेड के एमडी संजीव अग्रवाल के मुताबिक इस सिस्टम के दायरे में सभी शेयरों को चरणबद्ध रूप से लाया जाएगा।

शुक्रवार से टी प्लस वन सेटलमेंट सिस्टम के तहत 100 कंपनियों के शेयर आएंगे। सबसे कम वैल्युएशन वाली 100 कंपनियों को इसमें शामिल किया जाएगा। 

शेयर खरीदते हैं तो शेयर डीमैट एकाउंट में आने में कुछ समय लगता है। इसी तरह शेयर बेचने पर पैसा आपके एकाउंट में आने में कुछ समय लगता है। इसे सेटलमेंट सिस्टम कहा जाता है।

शेयरों को खरीदने-बेचने के आर्डर का सेटलमेंट दो दिन में पूरा होता है। यानी जिस दिन शेयर खरीदा है, उसके दो दिन बाद आपके डीमैट खाते में शेयर आएंगे।

जिस दिन शेयर बेचा है, उसके दो दिन बाद पैसा खाते में आएगा। अब शुक्रवार से केवल एक दिन के अंदर शेयर या पैसा आपके खाते में आ जाएगा।

शेयर मार्केट एनालिस्ट राजीव तुलस्यान के मुताबिक काफी समय से सेटलमेंट पीरियड घटाने की मांग की जा रही थी। नई व्यवस्था में सेबी ने दो दिन वाली व्यवस्था को भी फिलहाल जारी रखने का फैसला लिया है।

साथ ही स्टाक एक्सचेंजों को आजादी दी है कि वह नई और पुरानी में से किसी भी व्यवस्था को चुन सकते हैं। निवेशकों को फायदा ये है कि उनकी पूंजी दो दिन के बजाय केवल एक दिन में फ्री हो जाएगी।

जिनके पास सीमित पैसा है, उन्हें शेयर बाजार में दोगुना पू्ंजी के साथ ट्रेडिंग का अवसर मिलेगा। शेयर के भाव चढ़ने पर दो दिन के बजाय एक ही दिन में बेचा जा सकेगा।