बाजार में जारी उठा-पटक के बीच म्‍यूचुअल फंड्स पर निवेशकों का भरोसा बरकरार है. मार्च 2022 के दौरान इक्विटी म्‍यूचुअल फंड्स (Mutual Fund) में रिकॉर्ड 28,463 करोड़ रुपये का इनफ्लो हुआ.

मार्च में लगातार 13वें महीने इक्विटी फंड्स में निवेश आया है. इक्विटी स्‍कीम्‍स में एक कैटेगरी मिडकैप फंड्स की है. मिडकैप फंड मिड साइज कंपनियों में निवेश करते हैं.

BPN फिनकैप के डायरेक्‍टर अमित कुमार निगम का कहना है कि मिडकैप फंड्स में लॉन्‍ग टर्म के नजरिए से निवेश करना चाहिए.

निवेश को लेकर कम से कम 5 साल का नजरिए रखना चाहिए. दरअसल, मिडकैप फंड मिड साइज की कंपनियों में पैसा लगाते हैं. ये मिड साइज के कॉरपोरेट हैं जो लार्ज और स्मॉल कैप शेयरों के बीच आते हैं.

1 साल का रिटर्न: 48.72% 1 साल में 1 लाख की वैल्यू: 1.49 लाख एसेट्स: 2,641 करोड़ रुपये (31 मार्च, 2022) एक्सपेंस रेश्यो: 0.93% (31 मार्च, 2022)

Motilal Oswal Midcap 30 Fund

1 साल का रिटर्न: 47.97% 1 साल में 1 लाख की वैल्यू: 1.48 लाख एसेट्स: 361 करोड़ रुपये (31 मार्च, 2022) एक्सपेंस रेश्यो: 0.57% (31 मार्च, 2022)

Quant Mid Cap Fund

1 साल का रिटर्न: 36.92% 1 साल में 1 लाख की वैल्यू: 1.37 लाख एसेट्स: 4,887करोड़ रुपये (31 मार्च, 2022) एक्सपेंस रेश्यो: 0.46% (31 मार्च, 2022)

PGIM India Midcap Opportunities Fund

SIP AUM (एसेट अंडर मैनेजमेंट) मार्च 2022 तक 5,76,358.30 करोड़ रुपये पहुंच गया. जबकि, फरवरी 2022 में यह 5,49,888.76 करोड़ रुपये था.

मासिक आधार पर इसमें 26,469.54 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है. इसी तरह, मार्च 2022 में SIP अकाउंट ऑल टाइम हाई 5,27,72,521 पर पहुंच गए. फरवरी में यह 5,17,28,726 थे.