शेयर बाजार में लौटी रौनक के बीच टाटा ग्रुप की कंपनी टीटीएमएल के निवेशकों में उदासी छाई है। टीटीएमएल के शेयर पिछले 6 सत्रों में अपने निवेशकों को कंगाल कर रहे हैं।

शेयर बाजार में लौटी रौनक के बीच टाटा ग्रुप की कंपनी टीटीएमएल के निवेशकों में उदासी छाई है। टीटीएमएल के शेयर पिछले 6 सत्रों में अपने निवेशकों को कंगाल कर रहे हैं।

आप शेयर मार्किट New Upcoming Ipo in India | नया आगामी आईपीओ 2022 जानकारी पाने के लिंक निचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

इस स्टॉक से लोग निकल नहीं पा रहे हैं और इसके शेयरों का कोई खरीदार नहीं मिल रहा है। आज 36,93,047 शेयर बिकने के लिए आर्डर में हैं, लेकिन खरीदने वाला कोई नहीं है।

कंपनी को दिसंबर 2021 को समाप्त तीसरी तिमाही में 302 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा होने की खबर आई है। इसके बाद से ही इसमें हर रोज लोअर सर्किट लग रहा है

एक साल पहले की तिमाही में 298 करोड़ का नुकसान हुआ था। पिछले 6 सत्रों में यह 22 फीसद से अधिक टूट चुका है।

11 जनवरी को टीटीएमएल का शेयर अपने ऑल टाइम हाई 290.15 रुपये पर बंद हुआ था। इससे पहले यह एक साल में 2830 फीसद का छप्पड़ फाड़ रिटर्न दे चुका था।

आज 5 फीसद लोअर सर्किट लगने के बाद 140.00 रुपये प्रति शेयर पर आ गया है। इससे पहले टीटीएमएल एनएसई पर 11 फरवरी को 155.10 पर बंद हुआ था।

पिछले 23 दिसंबर से तो यह लगभग हर रोज अपर सर्किट मार रहा था। 23 दिसंबर को यह 154.10 रुपये पर बंद हुआ था और 10 जनवरी को यह 290.15 रुपये पर पहुंच गया

दरअसल टाटा टेलीसर्विसेज लि. (टीटीएसएल) ने समयोजित सकल राजस्व (एजीआर) बकाये से संबंधित ब्याज को इक्विटी में बदलने की योजना रद्द कर दी।

बीते दिनों टाटा टेलीसर्विसेज ने सरकार को चुकाए जाने वाले 850 करोड़ रुपये के ब्याज बकाया को इक्विटी में बदलने का फैसला किया था, जो कंपनी में 9.5 प्रतिशत हिस्सेदारी के बराबर है।

टाटा टेलीसर्विसेज की सब्सिडियरी कंपनी है। यह कंपनी अपने सेगमेंट में मार्केट लीडर है। कंपनी वॉइस, डेटा सर्विसेज देती है। कंपनी के ग्राहकों की लिस्ट में कई बड़े नाम है।

इसे जबरदस्त रिस्पॉन्स मिल रहा है, क्योंकि इसमें कंपनियों को फास्ट इंटरनेट के साथ क्लाउड बेस्ड सिक्योरिटी सर्विसेज और ऑप्टोमाइज्ड कंट्रोल मिल रहा है।

इसकी सबसे बड़ी खासियत क्लाउड आधारित सिक्योरिटी है जिससे डेटा को सुरक्षित रखा जा सकेगा। जो बिजनेस डिजिटल आधार पर चल रहे हैं, उन्हें इस लीज लाइन से बहुत मदद मिलेगी।