भारत की सबसे बड़ी चीनी कंपनियों में से एक श्री रेणुका शुगर्स लिमिटेड (Shree Renuka Sugars Limited) के शेयरों ने पिछले एक साल में अपने शेयरधारकों को मल्टीबैगर रिटर्न (Multibagger return) दिया है।

Share market के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Share market investment करणा चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे. 

पिछले एक साल में, शेयर की कीमत 9.9 रुपये से बढ़कर 53.60 रुपये हो गई है। इस अवधि में लगभग 440 प्रतिशत का रिटर्न दिया है।

एक साल पहले इस मल्टीबैगर स्टॉक में निवेश की गई 5 लाख रुपये की रकम आज 27 लाख रुपये हो जाती।  बीएसई पर शेयर 51.85 रुपये के पिछले बंद के मुकाबले 0.77 प्रतिशत बढ़कर 52.25 रुपये पर बंद हुआ।

11.000 करोड़ रुपये से अधिक के बाजार पूंजीकरण के साथ, शेयर 20 दिन, 50 दिन, 100 दिन और 200 दिन की चलती औसत से अधिक लेकिन 5 दिन की मूविंग एवरेज से कम हैं।

IIFL सिक्योरिटीज के मुताबिक, यह शेयर छोटी अवधि में 70-75 रुपये पर जा सकता है। यानी अभी दांव लगाने पर निवेशकों को 45% का तगड़ा रिटर्न मिल सकता है।

भारत में चीनी उद्योग के लिए एक महत्वपूर्ण कारक इथेनॉल मिश्रित पेट्रोल (EBP) कार्यक्रम है जिसका उद्देश्य भारत में चीनी की अधिकता की स्थिति को कम करना है।

ईबीपी कार्यक्रम गन्ने और सरप्लस चीनी को इथेनॉल के निर्माण की ओर मोड़ने का समर्थन करता है जो अब चीनी उद्योग के भविष्य के लिए प्रमुख फोकस बिंदु बन गया है।

सरकार गन्ने को इथेनॉल के उत्पादन की ओर मोड़ने के लिए इथेनॉल के लिए खरीद मूल्य भी जारी करती है। आईसीआईसीआई म्यूचुअल फंड ने भी मार्च में श्री रेणुका शुगर्स के शेयर खरीदे  हैं।