Infosys success journey: आईटी इंडस्ट्री की दिग्गज कंपनी इंफोसिस (Infosys) में दांव लगाने वाले निवेशकों को जबरदस्त फायदा हुआ है।

Share market के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Share market investment करणा चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

Loan  के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Loan लेने के लिए अधिक जानकारी चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

Insurance के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Insurance खरीदने के लिए अधिक जानकारी चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

कंपनी ने लंबी अवधि में अपने निवेशकों को बंपर रिटर्न दिया है। 23 फरवरी 1996 को एनएसई पर कंपनी के शेयर महज 96 पैसे पर थे, जो अब बढ़कर 23 फरवरी 2022 को एनएसई पर 1,742.80 रुपये पर पहुंच गए।

कंपनी के शेयर 1 जनवरी 1999 को एनएसई पर 11.59 रुपये के स्तर पर थे जो अब बढ़कर एनएसई पर 1,742.80 रुपये हो गए हैं। इस लंबी अवधि में इस IT शेयर ने अपने शेयरधारकों को 14,937.10 का रिटर्न दिया है।

भारत की दूसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी इंफोसिस लिमिटेड का आईपीओ (Infosys IPO) 29 साल पहले 14 जून 1993 को आया था। इसे फरवरी 1993 में लाॅन्च गिया था, लेकिन शेयर बाजार में इसकी लिस्टिंग जून में हुई थी।

उस समय कंपनी का आईपीओ प्राइस बैंड 95 रुपये था और कंपनी के शेयर 145 रुपये पर लिस्ट हुए थे। इंफोसिस के शेयरों की घरेलू बाजार ब्लॉकबस्टर शुरुआत हुई थी

कंपनी के शेयर 50% से ऊपर लिस्ट हुए थे। वर्तमान में बीएसई पर इंफोसिस के शेयर 1743.35 रुपये पर पहुंच गए हैं।

लिस्टिंग प्राइस से अब तक कंपनी के शेयरों ने 1102.07 फीसदी का रिर्टन दिया है। वर्तमान में इंफोसिस का मार्केट कैप 7.33 लाख करोड़ रुपये है।