एलआईसी का आईपीओ लेना चाहते हैं तो ये 10 बातें जरूर जान लेंदेश का अब तक का सबसे बड़ा एलआईसी का आईपीओ होली से पहले या बाद में आ सकता है।

Share market के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Share market investment करणा चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

आप शेयर मार्किट New Upcoming Ipo in India | नया आगामी आईपीओ 2022 जानकारी पाने के लिंक निचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

Loan  के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Loan लेने के लिए अधिक जानकारी चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

Insurance के बारे मे अधिक जाणकारी चाहते हो, Insurance खरीदने के लिए अधिक जानकारी चाहते है, तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

यह आईपीओ होगा। इसमें बीमाधारकों के लिए 10 फीसद हिस्सा रिजर्व रखा गया है, लेकिन सस्ते में शेयर पाने के लिए बीमाधारकों को कुछ शर्तों को पूरा करना होगा।

पहली बात: यह दुनिया में किसी बीमा कंपनी का तीसरा सबसे बड़ा आईपीओ है. एसबीआई कैपिटल्स, और Goldman Sachs सहित पांच अन्य घरेलू व वैश्विक इन्वेस्टमेंट बैंक इस आईपीओ के लिए बुक रनिंग लीड मैनेजर्स हैं।

दूसरी बात: LIC आईपीओ का पांच फीसद हिस्सा कर्मचारियों और 10 फीसद बीमाधारकों के लिए रिजर्व रखा गया है।

तीसरी बात: एलआईसी के 26 करोड़ बीमाधारकों के लिए 3.16 करोड़ शेयर रिजर्व रखे गए हैं, लेकिन केवल वही बीमाधारक इसके लिए आवेदन कर सकते हैं, जिनका पैन पॉलिसी से लिंक और डीमैट अकाउंट होगा।

चौथी बात: इसका कुल 35 फीसद हिस्सा रिटेल इनवेस्टर्स के लिए है। यानी जिनके पास एलआईसी का बीमा है, वह अधिकतम चार लाख रुपये तक के शेयरों के लिए बोली लगा सकता है।

पांचवीं बात:अगर दोनों आवेदन एक ही डीमैट अकाउंट से किए जाते हैं, तब भी यह वैध माना जाएगा। बीमाधारकों के लिए कोई लॉकइन पीरियड नहीं होगा और वे लिस्टिंग के दिन ही शेयर बेच सकते हैं।

छठी बात: बीमाधारकों के पास अपने नाम से डीमैट अकाउंट होना चाहिए। साथ ही उसे 28 फरवरी तक अपने पॉलिसी रेकॉर्ड में पैन (PAN) अपडेट करना जरूरी है।

सातवीं बात: समूह बीमा इसके लिए वैलिड नहीं है। नॉमिनीज और मृतक पॉलिसीहोल्डर की एन्युटी पा रहा जीवनसाथी इसके लिए आवेदन नहीं कर सकता है।

आठवीं बात: https://linkpan.licindia.in/UIDSeedingWebApp/ पर पैन अपडेट किया जा सकता है। तो नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक करे

नौवीं बात: PAN-LIC स्टेटस जानने के लिए https://linkpan.licindia.in/UIDSeedingWebApp/getPolicyPANStatus पर जाएं। अपना पॉलिसी नंबर, जन्मतिथि और PAN डालें। इसके बाद कैप्चा डालकर सबमिट कर दें।

10वीं बात: किसी भी आईपीओ के लिए आवेदन करने या शेयरों की खरीद और बिक्री के लिए डीमैट होना जरूरी है। भारत में दो डिपॉजिटरीज NSDL और CDSL हैं।